Breaking

गुरुवार, 12 मई 2022

स्कूली बच्चों को खाद्यान्न वितरण में भी बड़े पैमाने पर हो रही घटतौल।



(ग्राम पंचायत भदैंया का है गंभीर मामला, जहां विद्यालय में बांटे जाने वाले राशन को प्रधान द्वारा अपने घर पर मनमाने तरीके से वितरण कराकर 9 किलो राशन के बजाय किसी को डेढ़ तो किसी को 2 किलो देकर छात्रों के हकों पर डाला जा रहा डाका)
         

                                                                         कटरा बाजार गोण्डा। भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था और सुशासन के दम भर रही योगी सरकार में राशन वितरण में घटतौली व धांधली नहीं थम रही है। वहीं सरकार के स्वच्छ शासन प्रशासन का संकल्प गल्ला माफियाओं के आगे बौना साबित हो रहा है। इन माफियाओं की दरिंदगी स्कूली छात्र, छात्राओं को भी नहीं बख्श रही है और उन्हें निर्धारित मात्रा में पूरा राशन ना देकर ग्राम प्रधान द्वारा अपने घर पर राशन वितरण करते हुए नौनिहालों के हकों पर डाका डाला जा रहा है। ऐसा ही एक गंभीर मामला विकासखंड व शिक्षा क्षेत्र कटराबाजार के ग्राम पंचायत भदैंया में सामने आया है। यहां कोरोना काल में विद्यालय के बंद अवधि का खाद्यान्न कोटेदार के द्वारा प्राथमिक विद्यालय भदैंया बनगांव के प्रत्येक छात्र-छात्राओं या उनके अभिभावकों को निर्धारित मात्रा में 9- 9 किलो राशन विद्यालय में वितरित करना था लेकिन छात्र छात्राओं को  स्कूल में राशन वितरण ना करके ग्राम प्रधान द्वारा मनमाने तरीके से दबंगई के बल पर स्वयं अपने घर पर राशन वितरण करते हुए निर्धारित मात्रा में 9 किलो राशन प्रत्येक छात्र छात्राओं को ना देकर किसी को डेढ़ तो किसी को दो किलो राशन देकर नौनिहालों के हकों पर डाका डालने का कार्य किया गया है। जिससे काफी छुब्ध बच्चों ने बताया कि कोटेदार के माध्यम से विद्यालय में राशन वितरण ना कराकर ग्राम प्रधान द्वारा अपने घर पर राशन बांटा गया है जहां उन लोगों को निर्धारित मात्रा में 9 किलो राशन ना देकर किसी को मात्र डेढ़ किलो और किसी को दो किलो राशन देकर काफी घटतौली की गई है और हम लोगों को पूरा राशन ना देकर भारी मात्रा में प्रधान ने राशन हजम कर लिया है। बच्चों ने उनके हक का पूरा राशन दिलाये जाने और उचित कार्यवाही किये जाने की गुहार लगाई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें