Breaking




गुरुवार, 24 जून 2021

गौशाला केंद्रों में अव्यवस्थाओ के चलते बेजुबानो पशुओं की मौतो का जिम्मेदार आखिर कौन




कटरा बाजार गोण्डा। प्रदेश के  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की खास योजनाओं में से गोवंश की सुरक्षा महत्वपूर्ण योजना है । मुख्यमंत्री ने गोवंश की सुरक्षा के लिए गौआश्रय केंद्र भी बनवाएं है। वही मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारी को शख्त हिदायद दी है कि गौशालाओं मे गौवंशो की देखभाल मे कोई कमी न हो पाये बावजूद बेपरवाह अफसरों के चलते लगातार गायों की मौतो से क्षेत्र मे सरकार की किरकिरी हो रही हैं।

मामला विकासखंड के ग्राम गोड़वा नसीरपुर के बने गौशाला का है जहां गौशाला केंद्र पर अब्यवस्थाओ के चलते बेजुबान पशुओं की लगातार मौतें हो रही है मौत होने के बाद शव को दफनाया भी नही जाता उसे ऐसे ही खुले में ही फेंक दिया जाता है जिसे कुत्ते व कौवे नोच-नोच कर खाते है और कंकाल महीनो तक वही पड़े रहते है।  जिससे वहां का  पर्यावरण भी प्रदूषित हो रहा है आसपास में गंध होने की वजह से लोगों को वहां आने-जाने मे भी परेशानी हो रही है और दूसरी ओर उसका सीधा प्रभाव पर्यावरण पर पड़ता है गायों के मरने की वजह वहां पर गायों को दिए जाने वाली दूषित पानी व कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं लेकिन गौशाला से एक चौकने वाला मामला सामने आया जिससे यह कहना गलत नही होगा कि कही न कही इन बेजुबानो की मौतो के पीछे जिम्मेदार का भी हाथ है यहा पर मिली दवाई भी इस बात को साबित करती है वहा पर मिली दवा जो एक्सपायरी थी अगर यही दवा पशुओं की दी गयी होगी तो ऐसे स्थित मे बेजुबान पशुओं का क्या हाल होगा यह समझा जा सकता है। 


*क्या कहते है जिम्मेदार-*

*इस सम्बंध मे जब वहा पर तैनात पशुचिकित्सा अधिकारी डा.धर्मेंद्र चौधरी से फोन कर बात कर जानकारी मांगी तो वह आग बबूला होते हुए यह कहकर फोन काट दिया कि कल बात करना अभी कितनी बार एक चीज को बताये समय नही है कल यहा आ जाना डा. साहब का यह अंदाजा कुछ समझ नही आया योगी राज मे तेज तर्रार जिलाधिकरी के हिदायत के बाद भी इस तरह की बात एक जिम्मेदार को शोभा नही देता। पर जो भी हो ऐसे मामलो मे जांच बहुत ही जरूरी है।*


हिंदूयुवा वाहिनी के जिला अध्यक्ष शारदाकान्त पाण्डे से जब इस सम्बंध मे जानकारी ली गयी तो उन्होंने बताया कि प्रदेश मे योगी जी की सरकार है गौशालाओं की अवस्था से जुड़े मामले मे ऐसे गैर जिम्मेदार दोषी लोगो को कतई बक्शा नही जायेगा इसकी जांच कराकर दोषी पाये जाने वालो पर मुकदमा लिखवाया जायेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें