Breaking

मंगलवार, 22 दिसंबर 2020

कोरोना वायरस काल में भी प्रदेश की आंगनबाडी केन्द्रों से 162 लाख से अधिक लाभार्थियों को वितरित हो रहा है अनुपूरक पुष्टाहार




कोरोना वायरस महामारी से पूरा विश्व प्रभावित रहा। इस महामारी में लाॅकडाउन के दौरान सारी गतिविधियां बन्द रहीं, फिर भी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने लाभार्थीपरक, कल्याणकारी योजनाओं का लाभ सम्बन्धित लाभार्थियांे को कोविड-19 से बचाव के जारी दिशा-निर्देश का पालन कराते हुए  लाभ दिलाते रहे। इसी क्रम में बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा प्रदेश की 897 परियोजनाओं के 189789 आॅगनबाड़ी केन्द्रों पर पंजीकृत लाभार्थियों को अनुपूरक पुष्टाहार का वितरण आॅगनबाड़ी कार्यकत्रियों के माध्यम से किया जा रहा है, ताकि 06 वर्ष तक के बच्चें व गर्भवती एवं धात्री महिलाओं का पोषण होता रहे, उन्हें किसी तरह से कमजोरी न होने  पाये। प्रदेश के समस्त जनपदांे के समस्त आॅगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से गुणवत्तापरक अनुपूरक पुष्टाहार (टेक होम राशन) लाभार्थियों को डोर-टू-डोर पहुंचाया जा रहा है।



प्रदेश सरकार द्वारा अनुपूरक पुष्टाहार (टेक होम राशन) कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए प्रत्येक स्तर पर बेहतर निगरानी एवं सत्यापन कराकर राशन का वितरण सुनिश्चित किया जा रहा है। प्रदेश  के 06 माह से 03 वर्ष तक की आयु के बच्चों को टेकहोम राशन के रूप में एनर्जी डेंस वीनिंग, फूड, एनर्जी डेन्स  मीठा दलिया एवं एनर्जी डेन्स नमकीन दलिया उपलब्घ कराया जा रहा है। इसी तरह 03 वर्ष से 06 वर्ष तक की आयु के बच्चों को मार्निंग स्नैक के रूप में एनर्जी डेन्स मीठा दलिया, एनर्जी डेन्स नमकीन दलिया एवं डेन्स लड्डू प्रीमिक्स तथा दोपहर में हाट कुक्कड फूड उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रदेश में 120.04 लाख 06 वर्ष तक के बच्चों को अनुपूरक पुष्टाहार टेक होम राशन उपलब्ध कराते हुए उनको स्वस्थ बनाये रखा जा रहा है।

प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों से 06 माह से 06 वर्ष तक के बच्चों के साथ-साथ अति कुपोषित बच्चों, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं तथा किशोरियों सहित कुल 42 लाख से अधिक को भी टेक-होम राशन दिया जा रहा है। उन्हें एनर्जी डेन्स मीठा दलिया, एनर्जी डेन्स नमकीन दलिया एवं एनर्जी डेन्स लड्डू प्रीमिक्स उपलब्ध कराया जा रहा है। वर्तमान में कोविड-19 के अन्तर्गत विभिन्न प्रदेशों/स्थानों से आये प्रवासी श्रमिकों के परिवारों के पात्र 99645 विभिन्न श्रेणी के लाभार्थियों को भी अनुपूरक  पोषाहार/राशन वितरित किया जा रहा है। प्रदेश सरकार टेक-होम राशन वितरण की व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए प्र्र्र्रत्येक स्तर पर स्टाॅक का सत्यापन कराते हुए वितरित करा रही है। आॅगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा सम्बन्धित क्षेत्र के मा0 सांसद/विधायक/ग्राम प्रधान/ब्लाक प्रमुख आदि जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में कोविड-19 के दिशा-निर्देशांे का अनुपालन करते हुए डोर-टू-डोर पोषाहार/राशन वितरित किया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें